कोविड से ठीक होने वाले मरीजों की दर साढे 64 प्रतिशत से अधिक हुई।

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रीडॉ. हर्ष वर्धन ने कहा कि देश में सार्स कोविड-2 के एक हजार जीनोम को क्रमबद्ध करनेका काम पूरा कर लिया गया है। उन्होंने इस बात पर भी प्रकाश डाला कि देश में कोविड संक्रमणसे बचाव के लिए 16 तरह की टीकों का परीक्षण विभिन्न चरणों में है। स्वास्थ्य मंत्री   ने जैव प्रौद्योगिकी उद्योग अनुसंधान सहायता परिषदके जैव प्रौद्योगिकी विभाग की बैठक में कोविड-19 से जुड़ी गतिविधियों की समीक्षा करनेके अवसर पर यह बात कही।

बैठक में उन्होंने विभाग द्वारा कोविड-19 सेजुड़े डेटा कोष का राष्ट्रव्यापी नेटवर्क राष्ट्र को समर्पित किया। ये कोष फरीदाबाद, भुवनेश्वर,नई दिल्ली, पुणे और बेंगलुरू में बनाया गया है।स्वास्थ्य मंत्री ने कोविड महामारी को नियंत्रित करने के लिए जैव प्रौद्योगिकी विभागके अथक प्रयासों की सराहना की।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि कोविड से जुड़ी सूचनाओंका जो डेटा बेस तैयार किया गया है वह कोरोना वायरस के स्वभाव को समझने में मदद करेगा, जिससे महामारीके संक्रमण को रोकने में सहायता मिलेगी।

भारत में विश्‍व की तुलना में कोविड-19 के मरीजोकी मृत्यु दर सबसे कम दर्ज की गई है। देश में आज मृत्यु दर घट कर दो दशमलव एक पांचहो गई है। कोविड-19 महामारी के कारण पहले लॉकडाउन के बाद यह सबसे कम दर है।

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने कहाहै कि देश में अब तक दस लाख 94 हजार 374 लोग ठीक हुए हैं और पिछले 24 घंटों के दौरानछत्तीस हजार पांच सौ उनसठ लोगों के ठीक होने की पुष्टि हुई है। इसके साथ ही स्वस्थहोने वालों की दर 64 दशमलव पांच दो प्रतिशत हो गई है।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि आज एक दिन मेंसबसे अधिक 57 हजार 118 कोविड-19 के नए मरीज सामने आए हैं, अब कुल संक्रमितलोगों की संख्या बढ़ कर 16 लाख 95 हजार 988 हो गई है। इस समय देश में पांच लाख 65 हजार103 लोगों का इलाज चल रहा है। एक दिन में 764 लोगों की मौत की पुष्टि के साथ देशभरमें मरने वालों की संख्या 36 हजार 511 हो गई है।

भारतीय आयुर्विज्ञानअनुसंधान परिषद ने कहा है कि पिछले 24 घंटों के दौरान विभिन्न जांच केंद्रों में पांचलाख 25 हजार छह सौ नवासी नमूनों की जांच की गई है।

केंद्र सरकार राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों की सरकारों के साथ मिलकर कोविड-19 महामारीका मुकाबला करने के लिए देश में स्वास्थ्य के बुनियादी ढाँचे में निरंतर सुधार कर रहीहै। देश में 1,488 समर्पित कोविड अस्पताल, 3 हजार 231 कोविड स्वास्थ्य केंद्र और 10 हजार 755 कोविड देखभाल केंद्र हैं। इन अस्पतालों और केंद्रोंमें लगभग 17 लाख आइसोलेशन, आईसीयू,ऑक्सीजन वाले बेड और 23 हजार वेंटिलेटर की क्षमताहै। कोविड-19 परीक्षण के मामले में, भारतजल्द ही दो करोड़ परीक्षण के आंकड़े को छूने जा रहा है। देश भर में 13 सौ से अधिक सरकारी और निजी प्रयोगशालाएं कोरोना वायरस के नमूनों का परीक्षणकर रही हैं। पिछले कुछ महीनों में, भारत पीपीई किट और एन-95मास्क के उत्पादन में आत्मनिर्भर हो गया है। केंद्र ने राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को 273 लाख से अधिक एन-95 मास्क और 121 लाख पीपीई प्रदान किए हैं।

About Media Watch Editor

Virendra Sharma

View all posts by Media Watch Editor →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *